Cherry Blossom Flower in Hindi । चेरी का फूल । Cherry Blossom Tree Facts

Japanese Cherry Blossom Flower Information in Hindi | चेरी का फूल

Cherry Blossom Flower information in Hindi

चेरी ब्लॉसम का फूल Cherry Blossom Flower बहुत ही खूबसूरत और आकर्षक होता है। इसके पेड़ ज्यादातर जापान में पाये जाते है। चेरी को सकुरा नाम से भी जाना जाता है। जापान के टोक्यो इम्पीरियल पैलेस में चेरी के सबसे ज्यादा पेड़ है। वहाँ पर सबसे ज्यादा चेरी खिलती है। साथ ही सुरीमुरा पार्क, हाशिमोटो में भी चेरी खिलती है। चेरी ब्लॉसम जीनस प्रूनस के कई पेड़ों का एक फूल है। जिसकी सबसे ज्यादा प्रसिद्ध प्रजाति जापानी चेरी, प्रूनस सेरुलता है, जिसे जिसे सकुरा भी कहा जाता है। ज्यादातर चेरी इन क्षेत्रो में होती है खासकर जापान,कोरिया, ताइवान, मुख्यभूमि चीन, पाकिस्तान, ईरान, म्यांमार, नेपाल, भारत, अफगानिस्तान, थाईलैंड और पश्चिम साइबेरिया सहित उत्तरी गोलार्ध के समशीतोष्ण क्षेत्र में।


1: गुलदाउदी के साथ जापान का राष्ट्रीय फूल चेरी ब्लॉसम के फूल Cherry Blossom Flower को भी माना जाता है।

2: हनमी एक खिलने वाला फूल जिसे सकुरा या इम का पेड़ भी कहा जाता है। उस समय यह ओउम का फूल था। लेकिन हियान काल में चेरी ब्लॉसम ने लोगों ध्यान अपनी और ज्यादा आकर्षित किया तब से हामी सकुरा, वाका और हाइकू का पर्यायवाची फूल था जिसका मतलब  "चेरी ब्लॉसम" था।

3: जापान में तोकुगावा योशिमुने ने इसे प्रोत्साहित करने के लिए चेरी ब्लॉसम के पेड़ Cherry Blossom Tree लगाए। सकुरा के पेड़ों के नीचे, लोग दोपहर का भोजन किया करते थे।

4: जापान की मौसम विज्ञान एजेंसी और जनता सकुरा ज़ेनसेन (चेरी ब्लॉसम फ्रंट) को हर साल ट्रैक करती है, क्योंकि गर्मियों के मौसम के बीच में चेरी ब्लॉसम खिलना शुरू हो जाते है। ओकिनावा में यह जनवरी से खिलना शुरू होता है। और ज्यादातर यह मार्च के अंत या अप्रैल की शुरुआत में क्योटो और टोक्यो पहुंचता है। ओर धीरे - धीरे यह उच्च ऊँचाई वाले क्षेत्रों में आगे बढ़ता है। और कुछ हफ़्तों बाद होक्काइडो में पहुँच जाता है। जापानी लोग इन पूर्वानुमानों पर बहुत ध्यान देते है। ओर बहुत बड़ी संख्या में पार्को, मंदिरो, सार्वजनिक स्थलों पर परिवारों और दोस्तों के साथ फूलों को देखने वाली पार्टी का आयोजन करते है।

5: इसके बाद सारे लोग हनमी त्यौहार ओर चेरी ब्लॉसम की सुंदरता का जश्न मनाते हैं। साथ में बहुत लोगों को सुंदर दृश्य देखने का मौका मिलता हैं। हनमी का रिवाज जापान में कई शताब्दियों पहले से चला आ रहा हैं। यह इस त्यौहार को रिकॉर्ड करते हैं।

Cherry Blossom Flower Tree Information

Cherry Blossom Festival Information

6: ज्यादातर जापान के स्कूलों, सार्वजनिक स्थलों, भवनों,  के बाहर चेरी के पेड़ Cherry Blossom Tree लगाते हैं। क्योंकि वित्तीय वर्ष और स्कूल का वर्ष दोनों अप्रैल के महीने में शुरू होते हैं। होन्शू के कई हिस्सों में, काम का पहला दिन या स्कूल चेरी खिलने के मौसम के साथ मेल खाता है।

7: जापान में Cherry Blossom Tree सबसे ज्यादा पाये जाते है। जापान चेरी ब्लॉसम एसोसिएशन ने प्रत्येक जापान के प्रत्येक प्रान्त में कम से कम एक स्थान के साथ जापान के शीर्ष 100 चेरी ब्लॉसम स्पॉट की सूची विकसित की।

8: कोबरा उद्यान उत्तरी गोलार्ध का सबसे बड़ा उद्यान हैं जिसे उस समय जापानी बागानों के विश्व-प्रसिद्ध डिजाइनर केन नकजिमा (1914-2000) द्वारा डिजाइन किया गया था। पहला चरण 1979 में और दूसरा चरण 1986 में खोला गया था। उद्यान एडो अवधि की शैली में डिजाइन किए गए थे और काइयो-शिकी या टहलने वाले बगीचे हैं। वे जापान के सभी प्रकार के परिदृश्य को दिखाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। पाँच हेक्टेयर (12 एकड़) में, कोबरा जापानी उद्यान दक्षिणी गोलार्ध में सबसे बड़ा जापानी उद्यान है। सितंबर के दौरान वार्षिक चेरी ब्लॉसम उत्सव अब कोबरा के पर्यटन कैलेंडर में एक प्रमुख कार्यक्रम है।



9: ब्राजील में भी चेरी ब्लॉसम पाया जाता हैं। सबसे बड़ी मात्रा में केवल 1990 के दशक समें, क्यूरटिबा के बोटैनिकल गार्डन में उद्घाटन के साथ लगाए गए थे।

10: ब्रिटिश कोलंबिया का वैंकूवर, अपने हजारों चेरी के पेड़ों (अनुमानित 50,000) के लिए जाना जाता हैं। जिसमें बहुत से पेड़ सड़कों और कई पार्कों में स्थित है, जिसमें क्वीन एलिजाबेथ पार्क और स्टेनली पार्क शामिल हैं। वैंकूवर में हर साल वैंकूवर चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल Cherry Blossom Festival आयोजित होता है। चेरी की कई किस्में एक समशीतोष्ण जलवायु के साथ, फरवरी में वार्षिक रूप से खिलने लगती हैं, और अप्रैल में पेड़ पूरी तरह से फूलों से भर जाता हैं।

11: ओंटारियो में हाई पार्क, कुछ सोइ-योशिनो चेरी के पेड़ Cherry Blossom Tree ये ऐसी प्रजातियां हैं जिन पर सबसे पहले फूल खिलते हैं। जिन्हें जापान के लोग बहुत ज्यादा पसंद करते है। जापानी वाणिज्य दूतावास 2001 में हाई पार्क को 34 चेरी के पेड़ों का दान किया।

12: कनाडा के आर्बोरेटम और रॉक गार्डन में स्थित चेरी ब्लॉसम के पेड़ जापान और कनाडा के बीच दोस्ती की लगातार मजबूती को मनाने के लिए लगाए गए थे। रॉयल बॉटनिकल गार्डन में पीक खिलने का समय सामान्य रूप से अप्रैल के अंतिम सप्ताह या मई के पहले सप्ताह के आसपास होता है।

Japanes Cheery Blossom Flower Information in Hindi

Japanes Cheery Blossom Flower Information in Hindi

13: पेरिस के एक उपनगर में स्थित Parc de Sceaux में दो पेड़ों के बाग हैं, जिसमें एक बाग में सफेद चेरी ब्लॉसम और दूसरा गुलाबी चेरी ब्लॉसम के लिए जाना जाता है। जिसमें लगभग 150 पेड़ हैं जो बहुत लोगों को आकर्षित करते हैं। यहाँ पर चेरी ब्लॉसम के फूल Cherry Blossom Flower अप्रैल की शुरुआत में खिलते हैं।

14: जर्मनी के एल्ट्स लैंड ऑर्चर्ड क्षेत्र में चेरी ब्लॉसम एक मुख्य पर्यटक आकर्षण केंद्र है। जर्मन-जापानी समाज द्वारा आयोजित जापानी शैली की आतिशबाजी के साथ हैम्बर्ग में जर्मनी का सबसे बड़ा हनमी चेरी ब्लॉसम त्यौहार, हर वसंत में हज़ारों लोगों को आकर्षित करता है।

15: 1990 में, बर्लिन की दीवार के पूर्व खंडों के साथ, जापान ने जर्मन पुनर्मिलन की सराहना व्यक्त करने के लिए चेरी फूल का दान किया। इस उपहार का समर्थन जापानी लोगों द्वारा 9,000 से अधिक पेड़ों को लगाए जाने की अनुमति से किया गया था। ग्लेनिकर ब्रिज के पास उस वर्ष नवंबर में पहले पेड़ लगाए गए थे।



16: चेरी ब्लॉसम के पेड़ भारत में भी कुछ हिस्सों में पाये जाते है। भारत में चेरी ब्लॉसम एक आकर्षण है, ज्यादातर हिमालयी राज्यों में चेरी होती है जैसे: उत्तराखंड, जम्मू और कश्मीर,हिमाचल प्रदेश, सिक्किम और पश्चिम बंगाल के उत्तरी जिलों में है। हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों कल्पा, सराहन, छितकुल, सांगला और नारकंडा में जंगली चेरी फूल हिमालय की तलहटी को कवर करते है। चेरी ब्लॉसम दक्षिणी भारत के पश्चिमी घाटों में नीलगिरी पहाड़ियों में देखे जा सकते हैं।


17: प्रूनस सेरासोइड्स, जिन्हें जंगली हिमालयन चेरी कहा जाता हैं और भारत में जंगली चेरी और खट्टा चेरी कहा जाता है, जिसे हिंदी में पदम, पजा, या पद्माक्ष के रूप में जाना जाता है। हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में हिंदुओं के बीच इसे पवित्र माना जाता है और यह विष्णु और भगवान शिव के साथ जुड़ा हुआ है। महा शिवरात्रि के दौरान इसके पत्तों का उपयोग जंगली खट्टे फलों के साथ एक माला बनाने के लिए किया जाता है और प्रार्थना वेदी पर लटका दिया जाता है। इसके अलावा, पत्तियों का उपयोग धूप के रूप में भी किया जाता हैं।

18: प्रूनस सेरासोइड्स पर शरद ऋतु के दौरान फूल आते हैं।

19: भारत में चेरी ब्लॉसम का त्योहार अक्टूबर-नवंबर के दौरान आयोजित किया जाता हैं, जब प्रूनस सेरासोइड्स खिलता है।

Cherry Blossom Festival Shillong 2020 Dates

शिलांग में चेरी का त्यौहार शरद ऋतु के दौरान मनाया जाता है। शिलांग चेरी ब्लॉसम त्योहार को शरद ऋतु में मनाने के लिए उल्लेखनीय है। इस साल भारत मैं चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल शुरुआत संन 2020 - 3 नवंबर से 17 नवंबर तक मेघालय, शिलांग में चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल में शामिल होने पहुंचे।



Note: यह पोस्ट Cherry Blossom Flower Information in Hindi पर आधारित हैं। आपको यह पोस्ट Japanese Cherry Blossom Flower Tree Information in Hindi तो शेयर भी करें।


Post a Comment

0 Comments